अंतरराष्ट्रीय समाचार

द्वितीय सर संघ चालक गोलवालकर जी का 101 वां० जन्मदिवस मनाय गया |

स्लग – द्वितीय सर संघचालक गोलवालकर जी      का 101 वां जन्मदिवस मनाया गया |

गाजीपुर / मऊ जिले के आर्य समाज मंदिर के     पास स्थित राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ कार्यालय पर आर० एस० एस० के द्वितीय सर संघ चालक माधव राव सदाशिव राव गोलवारकर गुरु जी की 101 वीं० जयंती मनाई गई । द्वितीय सर संघ चालक गुरु जी   के जयंती पर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के स्वयं  सेवकों ने गुरु जी की जीवनी पर प्रकाश डाला एवं राष्ट्रीय स्वयं सेवक विशाल पांडेय एवं राहुल पांडेय  ने गीत , संगीत के माध्यम से गुरु जी को याद कर उनका जन्मदिन मनाया । राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ    के जिला प्रचारक राजीव नयन ने परम पूज्यनीय राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के द्वितीय सर संघ चालक माधव राव सदाशिव राव गोलवरकर गुरु जी ने सादगी पसंद व्यक्ति थे।

वे अपने सभी स्वयंसेवकों से बड़े प्रेम से मिलते थे । 1906 को नागपुर में सदाशिव राव गोलवलकर के घर जन्मे माधव गोलवलकर जो बाद में गुरुजी के नाम से प्रसिद्ध हुए, संघ के संपर्क में 1931 में उस समय आए जब वे बीएचयू में अध्यापन के लिए  आए थे। वे प्राणिशास्त्र के व्याख्याता थे। अध्यापक गोलवलकर तो हाकी और टेनिस खेलने के शौकीन थे परंतु उनसे संपर्क करने वाले स्वयंसेवकों को भी कहां मालूम था कि आगे चलकर सरसंघचालक का दायित्व निभाने वाले हैं । 1932 ई. में जब गर्मी     की छुट्टी में नागपुर पहुंचे थे तब प्रथम बार उनकी मुलाकात संघ संस्थापक डा. हेडगेवार से हुई थी। 1933 में नौकरी छोड़ संघ कार्य में लग गए ।     आज माधव राव सदाशिव राव गोलवरकर गुरु      के पद चिन्हों पर चल कर हम भारत को विश्व गुरु बना सकते हैं ।

रिपोर्टर संवाददाता –

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker