अंतरराष्ट्रीय समाचार

प्रधान एवं सचिव की घोर लापरवाही के कारण बेसहारा पशुओं की हुई मौत |

सुजीत कुमार सिंह

आखिर बेसहारा पशुओं की मौत का जिम्मेदार.  कौन ?

गाजीपुर बिरनो पशु अस्पताल में अस्थाई पशु आश्रय केंद्र होने से ग्रामवासियों को राहत मिलती है | फिर भी क्षेत्र के लोग आवारा पशुओं से हमेशा परेशान रहते हैं | प्राप्त जानकारी के अनुसार बिरनो के राजकीय पशु अस्पताल में आज दिन बुधवार को सूत्रों के अनुसार जानकारी मिली है कि पशु आश्रय केंद्र में प्रधान एवं सेक्रेटरी की घोर लापरवाही के कारण , पशुओं की शुद्ध रूप से खाने की व्यवस्था एवं रहने की व्यवस्था नहीं है | यही नहीं इस पशु आश्रय केंद्र पर सफाई कर्मियों की तैनाती
सुबह के पाली में – लालजी सिंह कुशवाहा , गुलाबचंद , सतीश कुमार , रामध्यान , नारायन |
तथा दोपहर के पाली में – जितेंद्र राम , अमरनाथ , शिवम , दिनेश पासवान |
और शाम के पाली में –
सुभाष कुमार , रामाश्रय , मुकेश राजभर ,
तीनों पहर पशु को देखभाल करने वाले

सफाईनहीकर्मी भी अपने मनमानी ढंग से कार्य करते हैं | पशु आश्रय केंद्र में 50 पशु रख्खे गए थे | जिसमें की आज 32 पशु मौजूदा हालत में पाए गए , तथा 2 पशु मृत अवस्था में और 3 पशु मरने के कगार पर पाए गए | और शेष पशु पहले के मर चुके हैं | पशुओं की मरने की सूचना पाकर खंड विकास अधिकारी प्रीति तिवारी ने तत्काल पशु चिकित्सा केंद्र में बने गौशाला में पहुंच कर देखा तो घटना स्थल पर 2 पशु मरे एवं 3 पशुओं को तड़पते हुए देखा तो तुरंत सचिव को मौके पर बुलाकर फटकार लगाई | एवं ग्राम प्रधान को सूचना देने के बावजूद भी मौके पर पहुंच नहीं पाए | तथा ड्यूटी करने वाले सभी सफाई कर्मियों को भी फटकार लगाई |

और कहा कि इस पशु आश्रय में पशुओं की मरने की शिकायत आ चुकी है | आप अपने कार्यों में सुधार लाएं अन्यथा मैं उचित कार्रवाई करने को बाध्य हो जाऊंगी | तथा खंड विकास अधिकारी ने तत्काल लेखाकार को आदेशित किया कि सेक्रेटरी एवं ग्राम प्रधान को कारण बताओ नोटिस जारी किया जाए | तथा इस घटना की जानकारी होने पर पूरे ब्लाक परिसर में अफरा-तफरी मचा हुआ है | तथा पशुओं की मरने की जानकारी होने पर क्षेत्र के लोगों की तरह तरह चर्चाएं हो रही हैं |

खबर एवं विज्ञापन के लिए संपर्क करें | | |

सुजीत कुमार सिंह | |

मोबाइल नंबर – 9918758458 एवं  8922088117

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker