अंतरराष्ट्रीय समाचार

बेलसडी धाम आश्रम सिद्धीपीठ के परिसर में भजन कीर्तन प्रवचन व सत्संग का कार्यक्रम हुआ संपन्न

गाजीपुर कासीमाबाद – बेलसड़ी धाम आश्रम सिद्धीपीठ के परिसर में शनिवार की देर शाम को मऊ जनपद के ताजोपुर गांव निवासी परम शिष्या आद्यया भारती के नेतृत्व में धाम के अनुयायीयों  द्धारा गुरू के सम्मान में गुरू वंदना के माध्यम से भजन कीर्तन प्रवचन व सत्संग का आयोजन किया गया।इस मौके पर बाल योगी महंत महेश दास जी   ने भक्तों से प्रवचन के माध्यम कहा कि गुरु भक्ति   ही मनुष्य के कल्याण का एकमात्र साधन है,
आज हम मनुष्य के परम कल्याण या हित की बात करें तो वह सदगुरु ही होते हैं,जो एक जीवात्मा को ब्रह्म ज्ञान प्रदान कर उसे परमात्मा के साथ जोड़ते हैं। जीवात्मा शरीर के भीतर परम ईश्वर के परम प्रकाश का आलौकिक दर्शन करती हैै |

और तभी मनुष्य जाति का कल्याण होता है। इसलिए गुरु भक्ति का मतलब है कि पूर्ण सदगुरु परमात्मा को प्राप्त करने का जो दिव्य रास्ता बताते हैं, जो परम श्रेष्ठ मार्ग बताते है, उस पर प्रार्थना करते हुए दृढ़ता पूर्वक चलना और जीवन के परम लक्ष्य परमात्मा में एकाकार होना। इसलिए हमारे समस्त शास्त्रों अन्य धार्मिक ग्रंथों में कहा गया है कि जैसी किसी के हृदय में परम भक्ति की सुंदर भावनाएं ईश्वर के प्रति होती है। प्राप्त जानकारी के अनुसार मालूम हो कि परम शिष्या आद्यया भारती को गुरु की अनमोल कृपा से परियोजना निदेशक के पद पर चयन प्राप्त हुआ है | जिससे इन्होने गुरू कृपा की महत्ता को समझते हुए , अपने नेतृत्व में यह कार्यक्रम सम्पन्न कराया पुण्य.   कि भागीदार बनी। इस मौके पर संदीप प्रताप सिंह पिन्टू, मनोज निर्मल, सत्यप्रकाश सिंघम, धर्मेन्द्र दास, नंदलाल, गिरीशचन्द, विन्धाचल दास, अवधेश दास, हरिनाथ पुजारी, लल्लन पासवान, आदि लोग   मौजूद रहे।

रिपोर्टर संवाददाता –

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker