अंतरराष्ट्रीय समाचार

भूमाफिया सेक्रेटरी की कोठी पर चलेगा बुलडोजर , लेखपाल पर भी होगी कार्यवाही – जिलाधिकारी

भूमाफिया सेक्रेटरी की कोठी पर चलेगा बुलडोजर , लेखपाल पर भी होगी कार्यवाही – जिलाधिकारी

सुजीत कुमार सिंह

गाजीपुर – घोटाले और भ्रष्टाचार के मामले में बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी को भी पीछे छोड़ने वाली    महिला सेक्रेटरी का लाखों का मकान ध्वस्त होगा। इस मामले में सरकारी जमीन पर कब्जा करने का आरोप प्रमाणित होने के बाद उपजिलाधिकारी ने मुकदमा दर्ज करा दिया हैं। मामले की जानकारी के बाद तमतमाये जिलाधिकारी मंगला प्रसाद सिंह ने उपजिलाधिकारी को कड़े निर्देश देने के साथ-साथ मौके पर तैनात लेखपाल जनक यादव के खिलाफ भी जांच की संस्तुति की गयी     है । और सभी मामले की रिपोर्ट डी0एम0 ने एस0 डी0 एम0 कासिमाबाद से प्रस्तुत करने को कहा है। प्राप्त जानकारी के अनुसार कासिमाबाद तहसील के बिरनो ब्लाक अन्तर्गत (मिर्जापुर) वैदवली गांव निवासी महिला सेकेट्री रानी गौड़ की हनक का लाभ उठाकर उसके पति संजय गौड़ ने उद्यान विभाग , नवीन परती व बंजर की   गांव की खाली पड़ी जमीन पर कब्जा जमा लिया । और इतना ही नही उस जमीन पर लाखो की लागत से दो मंजिला मकान भी बना लिया। इसके बाद भी जमीन की हवस के चलते , अनिल के अपने बनाये मकान के सामने मौजूद एक गरीब के 40 साल पुराने जर्जर आवास को    भी कब्जाने का कुचक्र रचने लगा। और इसके लिये उसने इलाकाई लेखपाल जनक यादव के सहयोग से गांव के रमेश गोड़ को परेशान करने लगा। यहॅा तक कि रमेश के बारे में दुल्लहपुर थाने में भी तमाम भ्रामक आरोप लगाये गये , लेकिन ग्रामीणो के विरोध व बेहतर आचरण के   चलते रमेश गौड़ सुरक्षित बच गयां । और मामले की पूरी जानकारी उपजिलाधिकारी कासिमाबाद के साथ गाजीपुर के मौजूदा जिलाधिकारी मंगला प्रसाद सिंह से मिलकर शिकायत की थी। जब पत्रकारों को मामले की जानकारी हुई , तो लोग मौके पर पहुॅंचे और तीन विभागों की जमीन पर कब्जाकर बनाई गई , आलीशान कोठी देखकर दंग   रह गये। इस कोठी के अलावा महिला सेक्रेट्री रानी गौड़   ने अपने हनक का प्रयोग करते हुए , कमिश्नर मुख्यालय वाराणसी में भी दो मंजिला आवास बना रखा है। मामूली वेतन पाने वाली महिला सेंग्रेटरी के दिन दूने और रात चैगुने विकास से इलाकाई लोग हतप्रभ है। जब ये रिपोर्ट मीडिया में आई और लोगो को जानकारी हुई , तो जगह जगह उपजिलाधिकारी कासिमाबाद कमलेश सिंह व इलाकाई लेखपाल जनक यादव की हरकत को लेकर जगहसाई  शुरू हुई और तब यह मामला जिलाधिकारी के संज्ञान में आया तो डी0एम0 ने कड़ा निर्णय लिया है। जिलाधिकारी से हुई टेलीफोनिक वार्ता के दौरान एस0डी0एम0 कासिमाबाद ने यह स्पष्ट कर दिया कि आरोपी कब्जेदार  के खिलाफ मुकदमा दर्ज हो चुका हैं और उनके अवैध मकान की ध्वस्तीकरण के लिये कागजी कोरम पूरा किया जा रहा हैं। तत्पश्चात मीडियाकर्मियों ने जब इस बात की जानकारी लेने के लिये महिला सेग्रेटरी जो जौनपुर में तैनात है , उसके पति संजय गौड़ से बात करनी चाहि तो संजय ने अपनी पहचान कमिश्नर व मुख्य सचिव सरकार से बताकर लोगो से बात करने से इंकार भी कर दिया था। डी0एम0  के इस निर्णय को लेकर पीड़ित पक्ष व गांव के सभी शिकायताकर्ता खुशी का इजहार कर रहे हैं। जिसकी     क्षेत्र में चर्चा का विषय भी बना है।

रिपोर्टर संवाददाता –

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker