अपना ग़ाज़ीपुर

मरदह ब्लाक के r.e.d. आशीष खरवार द्वारा सरकारी पैसों का किया जा रहा बंदरबांट

मरदह ब्लाक के r.e.d. आशीष खरवार द्वारा सरकारी पैसों का किया जा रहा बंदरबांट

आशीष खरवार देखते हैं 63 ग्राम सभा सहित क्षेत्र पंचायत के कार्य

ब्यूरो रिपोर्ट – सुजीत कुमार सिंह

गाजीपुर – मरदह ब्लाक क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले समस्त ग्राम सभाओं में ग्राम प्रधान सहित सचिव के द्वारा कराए गए , कार्यों का m.b. कराना होता है , जिसमें कुछ ग्राम प्रधानों द्वारा कार्य किए बगैर पैसे का प्रलोभन देकर ( r.e.d.) आशीष खरवार द्वारा m.b. बनवा लिया जाता है । और सचिवों से दबाव बनाकर सरकारी पैसे का बंदरबांट किया जाता है । जिसका जीता जागता उदाहरण इंदौर ग्राम सभा में पिछले कुछ दिनों पहले एक मामला प्रकाश में आया था । जो अभी धरातल पर वह सड़क बनकर तैयार नहीं हो पाई थी तथा कुछ ऐसे भी कार्य थे , जो बगैर किए m b. बनाकर फाइल तैयार किया गया तथा भुगतान के लिए सचिव पर दबाव बनाया गया है । और सचिव द्वारा भुगतान नहीं करने पर उनको बदनाम भी किया जा रहा है कि जब सचिव को परसेंटेज अधिक नहीं मिल पाता है तो पैसा भुगतान नहीं करते हैं। जबकि एक r.e.d. आशीष खरवार केवल मरदह ब्लाक के 63 ग्राम सभा का ही जिम्मेदारी नहीं है , बल्कि 63 ग्राम सभा के क्षेत्र पंचायत की भी जिम्मेदारी सहित जिला पंचायत तब का m.b. बनाने के लिए जिम्मा लिए हैं । यह अपनी पकड़ और दबदबा के कारण किसी और जे ई को कार्य देखने से नाराज भी हो जाते हैं । अच्छा खासा परसेंटेज लेकर फर्जी कार्यों को दिखाकर पैसा उतरवाने में माहिर r.e.d. की काली करतूत अब धीरे-धीरे सामने आ रही है । जिससे पूरे मरदह ब्लाक में चर्चा का विषय बना है । विशेष सूत्रों द्वारा बताया जाता है कि इनके पूरे ग्राम सभा में पिछले वर्षों का कराया गया , कार्य भी जगह-जगह पर अधूरा है । तथा सरकारी पैसे का बंदरबांट किया गया है । जब इस मामले की जानकारी मरदह ब्लाक के खंड विकास अधिकारी अरुण वर्मा से लिया गया तो उन्होंने बताया कि इस मामले की जानकारी है और r.e.d. आशीष खरवार के खिलाफ लिखित कार्रवाई भी किया गया है । तथा यह भी बताया गया कि इनके 63 ग्राम सभा में से लगभग गांव को लघु सिंचाई विभाग के आर.के. रंजन को दिया जाएगा । ऐसे कर्मचारी केवल अपने जेब भरने में माहिर होते हैं , बाकी सरकार की पैसे का बंदरबांट हो या गांव के लोगों का विनाश हो इससे इनको लेना देना कुछ भी नहीं है ।

रिपोर्टर संवाददाता –

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button